उत्तर प्रदेश कैराना

बहुचर्चित शीबा-रिजवाना हत्याकांड का फरार आरोपी गिरफ़्तार

बहुचर्चित शीबा-रिजवाना हत्याकांड का फरार आरोपी गिरफ़्तार

कैराना। बहुचर्चित शीबा-रिजवाना हत्याकांड में करीब नौ वर्षों से फरार चल रहे एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी पुलिस से बचने के लिए घर छोड़कर पंजाब के मोहाली में राजमिस्त्री का काम कर रहा था। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी को जेल भेज दिया है।
एसपी शामली अभिषेक झा के निर्देशानुसार वांछित अभियुक्तों की धरपकड़ हेतु चलाए जा रहे अभियान के तहत कैराना पुलिस की टीम ने मुखबिर खास की सूचना पर पंजाब के मोहाली में दबिश देकर एक अभियुक्त को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए अभियुक्त ने अपना नाम व पता फैजान निवासी मोहल्ला अफगानान कस्बा कैराना बताया। आरोपी अगस्त 2014 में हुए सगी बहनों शीबा व रिजवाना हत्याकांड़ के मामले में फरार चल रहा था। आरोपी पंजाब के मोहाली में रहकर राजमिस्त्री का कार्य कर रहा था। पुलिस ने पकड़े गए आरोपी का चालान करके उसे जेल भेज दिया है।

यह था पूरा मामला

अगस्त 2014 में मोहल्ला अफगानान निवासी दिलशाद की दो बेटियों शीबा व रिजवाना की मामा के घर से अपहरण करने के पश्चात निर्मम हत्या कर दी गई थी। इनमें दो अगस्त को शीबा तो छह अगस्त को रिजवाना का शव बरामद हुआ था। उस समय दोनों बहनों की हत्या पर कैराना में काफी बवाल हुआ था। बवाल में तत्कालीन कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अजय कुमार भी घायल हुए थे। तब उच्चाधिकारियों की सूझबूझ के चलते माहौल बिगड़ने से बचा लिया गया था। मामले में पीड़ित परिवार की ओर से आधा दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया गया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दोनों बहनों से दुष्कर्म की पुष्टि होने पर पुलिस ने धाराओं में इजाफा कर दिया था। पुलिस विवेचना के दौरान कुछ और नाम भी सामने आए थे। इनमें पुलिस कई आरोपियों को जेल भेज चुकी है।

सीबीसीआईडी ने भी माना आरोपी

बहुचर्चित शीबा-रिजवाना हत्याकांड की जांच सीबीसीआईडी को सौंपी गई थी। सीबीसीआईडी की जांच भी पूरी हो चुकी है। सीबीसीआईडी ने भी नामजदों को आरोपी माना हैं। पकड़ा गया आरोपी फैजान घटना के बाद से ही फरार चल रहा था।

हत्याकांड के दो आरोपी चल रहे फरार

शीबा-रिजवाना हत्याकांड में परिजनों ने आधा दर्जन से अधिक लोगो के विरुद्ध नामजद अभियोग पंजीकृत कराया था। पुलिस तफ्तीश के दौरान कुछ और लोगो के नाम भी प्रकाश में आये थे। हत्याकांड के कई आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार करके जेल भेज चुकी है। हालांकि अभी भी दो आरोपी कदीर व मंसूर फरार बताए जा रहे है, जबकि एक आरोपी शमीम की पिछले दिनों हरियाणा के अंबाला में बीमारी के चलते मौत होना बताया गया है।

अरशद चौधरी
मुख्य सम्पादक - विजिलेंस मीडिया ग्रुप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *